vashikaran specialist

Vashikaran Puja in Navratri

vashikaran puja in NavratriVashikaran Puja in Navratri is very effective vashikaran remedies for any problem solution. Navratri is the famous for Maa Bhawani Stuti for nine days. There are two navaratri is celebrated in India. First Puja held in Hindi Month of Chaitra and second is celebrated in Hindi month ‘Ashwini’ after these nine days of navratri, there is a big festival ‘Dashara’ is celebrated.

Navratri Vashikaran Puja

I have mentioned above that nine days regularly Maa bhawani’s Stuti aradhana, worshiped in these navaratri. In these nine days, Maa bhawani’s is worshiped in her nine different forms. navratri vashikaran Puja of These Nine forms of Maa Durga are:

1. navratri vashikaran Puja of Goddess Shailputri

The first manifestation of Durga is

Vashikaran for love marriage

vashikaran for love marriage is the procedure to Reassure your partner to marry with you. Many time lover refuse to marry but vashikaran can make him agree. We noticed that a large number of boys misuse love relationship. They hurt girls. In older days, Love accepted as a god but now a days it is
Read More

जानिए पौराणिक काल के 24 चर्चित श्राप और उनके पीछे की कहानी

हिन्दू पौराणिक ग्रंथो में अनेको अनेक श्रापों का वर्णन मिलता है। हर श्राप के पीछे कोई न कोई कहानी जरूर मिलती है। आज हम आपको हिन्दू धर्म ग्रंथो में उल्लेखित 24 ऐसे ही प्रसिद्ध श्राप और उनके पीछे की कहानी बताएँगे। 1. युधिष्ठिर का स्त्री जाति को श्राप महाभारत के शांति पर्व के अनुसार युद्ध
Read More

हिन्दू परम्पराएं और उनके वैज्ञानिक कारण

वैसे तो ये सब चीजे हमारे आस पास होती ही रहती है पर फिर भी हम सब ये नही जानते की इनके पीछे क्या कारण है हिन्दू संस्कृति कोई अंधविस्वास पर नही टिकी है इसको विज्ञानिको ने भी सही माना है.ये संस्कृति लाखो हजारो वर्षो से चली आ रही है और आगे भी चलती रहेगी
Read More

इतिहास के ये सात व्यक्ति आज भी जिन्दा है

श्लोक : ‘अश्वत्थामा बलिर्व्यासो हनुमांश्च विभीषणः। कृपः परशुरामश्च सप्तैते चिरंजीविनः नमो नमः॥’ अर्थात् : अश्वत्थामा, बलि, व्यास, हनुमान, विभीषण, कृपाचार्य और भगवान परशुराम ये सभी चिरंजीवी हैं, इन्हें नमस्कार है। 1. बलि : राजा बलिके दानके चर्चे दूर-दूर तक थे। देवताओं पर चढ़ाई करके राजा बलिने इंद्रलोक पर अधिकार कर लिया था। बलि सतयुगमें भगवान
Read More

जीवाणुओं - विषाणुओं का महाभारत में उल्लेख

जीवाणुओं – विषाणुओं का महाभारत में उल्लेख . Bacteria – Viruses mentioned in The Mahabharata अवध्यः सर्वब्रह्मभूता अन्तरात्मा न संशयः अवध्ये चात्मनि कथं वध्यॊ भवति केन चित !!१!! यथा हि पुरुषः शालां पुनः संप्रविशेन नवाम एवं जीवः शरीराणि तानि तानि परपद्यते !!२!! देहान पुराणान उत्सृज्य नवान संप्रतिपद्यते एवं मृत्युमुखं पराहुर ये जनास कर्मफलर्दर्शिनः !!३!! ये
Read More

जानिए वशीकरण ध्यान से वशीकरण कैसे करें ?

वशीकरण ध्यान (Meditation) में दुनिया को बदलने कि क्षमता होती है! १९७२ में अमेरिका के ११ शहरों में एक प्रयोग किया गया था, ये प्रयोग तीन सप्ताह तक चला था, इसमें ७००० स्वयंसेवकों ने भाग लिया था, इसके चमत्कारिक परिणाम को दुनिया “महर्षि प्रभाव” या “Maharishi Effect” के नाम से जानती है! ये नाम महर्षि
Read More

जानिए आर्यावर्त की महान सती सुलोचना के बारे में कुछ रोचक बातें

सुलोचना वासुकी नाग की पुत्री और लंका के राजा रावण के पुत्र मेघनाद की पत्नी थी। लक्ष्मण के साथ हुए एक भयंकर युद्ध में मेघनाद का वध हुआ। उसके कटे हुए शीश को भगवान श्रीराम के शिविर में लाया गया था। अपने पती की मृत्यु का समाचार पाकर सुलोचना ने अपने ससुर रावण से राम
Read More

जानिए शिवलिंग का वैज्ञानिक महत्व

शिवलिंग की वैज्ञानिकता …. भारत का रेडियोएक्टिविटी मैप उठा लें, तब हैरान हो जायेगें ! भारत सरकार के नुक्लियर रिएक्टर के अलावा सभी ज्योतिर्लिंगों के स्थानों पर सबसे ज्यादा रेडिएशन पाया जाता है।.. शिवलिंग और कुछ नहीं बल्कि न्यूक्लियर रिएक्टर्स ही हैं, तभी तो उन पर जल चढ़ाया जाता है ताकि वो शांत रहे। महादेव
Read More

इन जगहों का जिक्र रामायण में भी है

इन जगहों का जिक्र रामायण में भी है। इस रिपोर्ट को अपने रीडर्स तक पहुंचाने के लिए हमारे रिपोर्टर्स इन सभी 8 जगहों पर गए। उस दौर के साक्ष्यों को तलाशा। उनसे जुड़ी मान्यताओं और कहानियों की पड़ताल की। तस्वीरें कलेक्ट की। साथ ही इन जानकारियों को वहां के महंतों, इतिहासकारों और रामायण-वेद के जानकारों
Read More