जानिए वशीकरण ध्यान से वशीकरण कैसे करें ?

वशीकरण ध्यान (Meditation) में दुनिया को बदलने कि क्षमता होती है! १९७२ में अमेरिका के ११ शहरों में एक प्रयोग किया गया था, ये प्रयोग तीन सप्ताह तक चला था, इसमें ७००० स्वयंसेवकों ने भाग लिया था, इसके चमत्कारिक परिणाम को दुनिया “महर्षि प्रभाव” या “Maharishi Effect” के नाम से जानती है! ये नाम महर्षि महेश योगी कि स्मृति में रखा गया था, जो इसके जन्मदाता थे!
इसका सिद्धांत ये था कि जहाँ ये प्रयोग होगा वहाँ Crime, Violence, Accidents, and Illness, यानि , अपराध , हिंसा , दुर्घटना , और बीमारियों कि दर कम हो जायेगी, और प्रयोग के निष्कर्ष में वैज्ञानिकों ने यही परिणाम पाया!
इस प्रयोग के दौरान वैज्ञानिकों की टीम ने पाया की मंत्र एवं श्लोकों का जाप कर रहे ७००० स्वयंसेवकों के पास शहर की समस्त ऊर्जा को सकारात्मक व सात्विक ऊर्जा में बदलने की सामूहिक शक्ति पैदा हो गयी थी! इन शहरों में इस प्रयोग के प्रभाव से अपराधों की औसत दर में अप्रत्याशित कमी आयी थी, साथ ही सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में भारी कमी देखी गयी थी, साथ ही बीमारियों और अन्य अपराधों में भी कमी देखी गयी! ये प्रयोग बाद क दशकों में विश्व के १०८ देशो में भी किया गया! सब जगह यही सुखद परिणाम निकले!
बाद में व्यापक वैज्ञानिक अनुसंधानों द्वारा इस सिद्धांत को तकनीकी रूप से सत्यापित कर दिया गया, ये अपनी तरह की विश्व में पहली परिघटना थी, पर ये उस तरह से कभी प्रचारित नहीं हो पायी, इसका कारण दुनिया की बड़ी दवा कंपनियों को बताया जाता है, साथ ही इसका विरोध करने वालों में “तीसरी दुनिया” वालों का भी नाम है!